शनिवार, अक्तूबर 22, 2011

मैं और मेरी मोबाईल

मैं और मेरी मोबाईल
अक्सर ये बातें करते हैं
जब मैं उसे अपने दिल के करीब
अपने शर्ट के जेब पर रखता हूँ
वो बड़े प्यार से वाईब्रेट होकर
साइलेंट मोड में इशारों से कहती है
काश वो ड्यूल सिम वाली होती
और उसमें भी ब्लैकबैरी सुविधा होती
मल्टीमिडिया फँक्शन के सहारे
हसीनाओं की हाई डेफिनेशन विडियो लेती
एक साथ दो दो मेनकाओं से आल्टरनेट निपटती
मिटिंग रूम में भी बिजी मोड में रहकर
फेसबुक पर चौथी से दिल के तार जोड़ती
शर्ट की जेब पर शर्म से मुँह ना छुपा कर
खुले आम हाथों में बल खाती इठलाती


मगर ये हो ना सका
मगर ये हो ना सका , अब तो ये आलम है
निजीपत्नी ने अपना पोस्ट पेड सिम
नोकिया 1100 माडल के सेट पर
लगा कर मुझे दे दिया है
और हर माह काल डिटेल मिला कर
सीबीआई की तरह इंक्वारी करती है ......

2 टिप्‍पणियां:

  1. ha ha ha ha गिवमी मोबाईल नंबर वाला रिंग टोन तो डाल ही सकते हो और आफ़िस के फ़ोन से चैटिया भी सकते हो

    उत्तर देंहटाएं
  2. ११०० नोकिया मोबाइल की खूबी नहीं जानते हो इसीलिए ऐसा बोलते हो ,,,,

    उत्तर देंहटाएं